Saturday, 13 October 2018

सिधश्री जोग लिखी ...

कागद मायड़ भासा रा हेताळुवां रै नांव...

                                                                                                                          नागौर मारवाड़, राजस्थान
                                                                                      तिथ आसोज सुदी पांचम वार शनिवार,वि.सं. 2075 

आदर जोग राजस्थानी सौरम बांचणियां ने घणै मान राम राम,जय जय राजस्थानी।                      

सिधश्री जोग लिखी ओपमान बिराजमान गांव नागौर मारवाड़ सूं गांव देस दिसावर रहवणिया मायड़ भासा रा हेताळु राजस्थानी सौरम बांचणिया भाइसैणां ने घणै मान राम-राम, जै श्रीकृष्ण, बड़ा बुजुर्गां ने पगै लागणा, अर टाबरां ने आसीस बंचावसी। अपरंच समचार एक है क म्हें अठे परम पिता परमात्मा री किरपा सूं सगळा राजी खुसी हां। बूढ़ा बडेरा सब रामजी री किरपा सूं सोरा अर राजी खुसी अर टाबर टोळी मजा में है सा। आप सें जणां भी भगवान री किरपा सूं राजी खुसी हुवोला।
समचार है क देस रा पांच राज्यां में चुणावी धमचक मच्योड़ी है। राजस्थान मंाय भी चुणाव सात दिसम्बर रै दिन हुवैला अर गिणती ११ दिसम्बर ने पांचूं प्रदेसां रै सागै ही हुवैला। चुणावां मांय उम्मीदवारां री अलख प्रदेस भर मांय जागगी। राजनीति री रैलियां करता लोग घर-घर अर गांव-गांव वोट मांगण वास्तै फिरण लागगा। मूंगी गाडयंा लियां लोग फिरण लागगा। जका कदई गांवां रा मुण्डा कोनी देखता व्हे भी आज घर-घर जागण,मरण-ठारण अर ब्याव-सावा मांय पुगण लाग रहया अर आपो आप ने समाज रा सेवक बतावण मांय कोई कसर कोनी राखै। लोग, जात -पांत, नाते-रिश्तेदारी अर समाज रै नांव माथै वोट मांगण में कोई कसर कोनी राखैला।
मायड़ भासा रा हेताळुवां सूं एक ही अरज है क आप रा स्थानीय मुद्दां रै सागै एक मुद्दो सागै जोड़ ल्यौ। थां रै कन्ने वोट री बात करणिया लोगां अर उम्मीदवारां ने एक बात समझाय दयौ क राजस्थान री पिछाण मायड़ भासा राजस्थानी सूं ही हुवैला। इण सारू राजस्थान री राजभासा राजस्थानी ही हुवै। प्राथमिक शिक्षा री पढ़ाई राजस्थानी मांय ही हुवै अर केन्द्र सरकार राजस्थानी में संवैधानिक मान्यता दी जावै। आप उम्मीदवारां सूं एक सवाल जरूर करो क राजस्थानी भासा री संवैधानिक मानता वास्तै आज तांई करयौ उण रौ हिसाब देओ अर अब आवण वाळा दिनां मांय राजस्थानी भासा री संवैधानिक मानता सारू कांई करौला, इण रौ बचन मांगो।
राजस्थानी सौरम रै कांनी सूं उण सब भाईसैणां रौ आभार जका लारला दिनां राजस्थानी री संवैधानिक मानता सारू नेतावां सूं सवाल जवाब करया अर उणां रा कौल बचन याद कराया। आप सैं जणां राजस्थान संू बारै सूं उम्मीदवारां अर उणां रा समरथकां ने फोन कर अर आ भोळावण देवोला तो कीं पार पड़ेला,नीं तो राज रा काम तो यूं ही चालता रहवैला। राजस्थानी सौरम रै कांनी सूं पोथी प्रकासण अर राजस्थानी पोथ्यां री खरीद बिक्री सारू योजना नूंवां साल मंाय आप री निजर हुवैला।

नागौर रै डेह गांव रा नेम प्रकासण रा पवन जी पहाडिय़ा अर राजस्थानी भासा मान्यता संघर्ष समिति रा लक्ष्मणदानजी कविया रै कांनी सूं आप सबां ने 3 फरवरी  2019 रै दिन देस भर मांय आप री तरह रा अनूठा कार्यक्रम राजस्थानी भासा रा तेरह पुरस्कारां अर पोथ्यां विमोचन समारोह मांय सामिल हुवण रौ घणैमान नूंतो। इण रै सागै जाण पिछाण रा राजस्थानी भायां ने राजस्थानी सौरम रा पेज ने लाइक करण री अरज करता थकां जाण पिछाण रा सगळा जणां ने घणा मान सूं राम-राम अर जै श्रीकृष्ण बोलज्यो।
                                                                                                        आपरो ही मायड़ भासा रो हेताळू

                                                                                                                                         बाबूलाल टाक
                                                                                                           गूगळ रौ ठिकाणों, राजस्थानी सौरम,
                                                                                                               वाटसअप रा नम्बर, 9413365577

                                                                                                              ठिकाणों नागौर, मारवाड़ राजस्थान

1 comment:

  1. मायड़ भाषा खातिर आपा सै न ही चेतणो पड़सी खाली लक्ष्मण दान जी कविया, पवन जी पहाड़िया या बाबूलाल जी टॉक रो ही काम नी ह ओ इणां रो सहयोग ही आपणो सहयोग है तो ई बार करो.....वोट पर चोट. .राम राम सा

    ReplyDelete