Friday, 30 March 2018

राजस्थानी समाचार

राजस्थान दिवस रै दिन भासा री मानता री मांग 
नागौर राजस्थान दिवस रै दिन राजस्थानी साफा पहरया अखिल भारतीय राजस्थानी भाषा मान्यता संघर्ष समिति नागौर रा सदस्य राजस्थानी भासा ने प्रदेस री भासा अर संवैधानिक मानता दिरावण री मांग ने लेयर मुख्यमंत्री रै नांव रौ ज्ञापन अतिरिक्त कलक्टर अशोक कुमार ने दिया। ज्ञापन में बन्द पड़ी राजस्थानी भासा सहित्य संस्क्रति अकादमी री सुध लेवण री मांग करी। समिति रा संस्थापक लक्ष्मण दान कविया अर पवन पहाडिया रा नेतृत्व में ज्ञापन देवण वाळा में मेहराम धोलिया,मिठुराम ढाका, गैना राम इनाणिया ,प्रहलाद सिंह झोरड़ा समेत केई जणा सामल हा।

3 comments:

  1. 'राजस्थानी'

    आखर आखर मिसरी घोळै
    मुरधर टोळै जकी जुबानी |
    मीठे कंठा मोर पपैया
    कोयल बोले राजस्थानी ||

    नूंवै बगत रै सागै चालै
    जूनी बातां सगळी जाणै |
    साहित सागर छोळां भरती
    बगै हबोळै राजस्थानी ||

    आजादी री अगीवाण बण
    लोकतंत्र री करी आरती |
    माथां साटै मुलक रुखाळी
    बेटा भोळै राजस्थानी ||

    जिण रै अेक दूहे में खिमता
    सत्ता सिंघासण पळटण री |
    छोटी बहन जाण हिन्दी नै
    प्रीत पडौळै राजस्थानी ||

    सीधा सादा इण रा जाया
    पण बुद्धि रो जग कायल है |
    सात समन्दां पार निरखलै
    ओळै दोळै राजस्थानी ||
    ©प्रहलादसिंह झोरङा

    ReplyDelete
  2. घणी छोकी हैं थांकी आ कविता

    ReplyDelete
  3. मती भरोसै रयौ नेतां रै मती भरोसे राज रै
    अण्यिां तण्यिां खुदोखुद ही आगै आवौ आज रै
    जुग परलै है खुद मरियां कामडयौ बैठे नीं डरिया
    पेहरल्‍यौ केसरिया बागौ अेक ही धुन में थे भागौ
    बैठणो मानिता दिरवाय खोलणां जीतै न जूतां ने
    घर घर में आन्‍दोलण छेड़ो जाय जगादयौ सूतां नै
    मायड़ अजै बिका में झूलै बतळादयौ सै पूतां नैं

    ReplyDelete