Tuesday, 9 January 2018

बडेरां री केबत

टका री हांडी फूटी, गंडक रौ माजनो पिछाणयो
बडेरा इण केबत सूं ओछा मिनखां री जात री पिछाण करण री सीख देवे। आ केबत भी प्रतिकात्मक रूप सूं ओछा मिनखां रा बोवार री तुलना गळी मोहल्ला रा कुत्ता रा बोवार सूं करता कही गई। गळी मोहल्ला में  फिरण वाळा कुत्ता केई बार माटी री हांडी में मूंडो लगाय देता। ठा पड़यां पछे घर वाळा कुत्ता लिक्योड़ी हांडी ने काम नीं लेता अर फोड़ देता। कुत्ता ने राजस्थानी में गंडक भी कहवे अर इण केबत में भी ओछा मिनख रा बोवार सूं कम नुकसाण सूं ही आगे सूं सावधान रहवण रौ सन्देस देवन्ता अर्थावे क टका री हांडी फूटी गंडक री जात पिछाणी।

No comments:

Post a comment