Saturday, 14 October 2017

परम्परा

-रंगोली अर मांडणा री परम्परा

राजस्थान। यूं तो हर मांगलिक तिंवार माथै रंगोली बणावण अर मांडणा मांडण री परम्परा राजस्थान रा गांव-गांव में रही पण दिवाळी सूं पेलां घरां में बणयोडा चितराम री छवि न्यारी ही हुवे। गोबर सूं लिपयोड़े आंगणा में माटी रा रँगा सूं कोरयोडा मांडणा साख्यो, चीड़ी, कमेड़ी, मोर, कबूतर, कमल, फूल पत्ती अर बेल बूंटा कला, संस्क्रति अर परम्परा री एड़ी छाप छोड़े के बिदेसी पांवणा भी  देखता ही रह जावै। मांडणा रै माथै दीयां री सजावट लोग देखता ही रह जावै।

No comments:

Post a comment