Saturday, 14 October 2017

राजस्थानी समचार

कवि कानदान कल्पित स्मृति कवि सम्मेलन आज
नागौर। कवि कानदान जी कल्पित री याद में कवि कानदान कल्पित राजस्थानी पद्य पुरस्कार समारोह अर कवि सम्मेलन आज शनिवार सिंज्या रा हुवेला। कवि सम्मेलन में  पुरस्कार जयपुर रा राजस्थानी कवि भँवर जी भँवर नैं दियो जावैला। कल्पित स्मृति साहित्य संस्थान झोरड़ा रै कांनी सूं करणी मन्दिर करणी कॉलोनी,नागौर में आज शनिवार रात -8 बज्यां सू अखिल भारतीय कवि सम्मेलन राजस्थानी साहित्कार लक्ष्मण दान कविया री अध्यक्षता में हुवेला। सचिव किशन दान रतनू बतायौ क कवि सम्मेलन रा मुख्य अतिथि नगर परिषद नागौर र् चैयरमेन कृपाराम सोलंकी हुवेला। कवियां में भागीरथ सिंह भाग्य -गीतकार बग्गड़, राजेश विद्रोही -शायर लाडनूं, डॉ गजादान चारण डीडवाना, हरिओम पारीक दांता, अशोक चारण जयपुर, श्रीमती चेतना शर्मा आगरा, कैलाश शर्मा मकराना, राजकुमार राज खेतड़ी, गजेन्द्र कविया खाटूश्यामजी कविता सुणावेला। कवि प्रहलाद झोरड़ा कवि सम्मेलन रौ संचालन करेला। कानदान जी वास्ते डीडवाना रा डॉ गज्जादान जी लिख्या है ...
कवियण लाख करोड़ में, जिणरी मिलै न जोड़।
कानदान कल्पित सदा,है माथै रो मोड़।।
कवि सम्मेलन सुनण वास्ते आप सगळा सपरिवार कोड सूं पधारो। 

2 comments:

  1. कानदान जेहड़ो कवि हुयो न होसी और
    बिन बादळ बरखा बणा निरा नचातो मोर
    खाका अेड़ा खेंचतो सुपना व्‍है का साच
    कारीगर ज्‍यूं कोरदै रामतिया बिन राछ
    गीत अयां का गावतो दरद करातो दीठ
    मुरघर रा मोती सुण्‍यां पूठी किणरी पीठ
    सीखड्ली सुणती बगत चेते व्‍है चितराम
    बेटी जिणरी व्‍है बिदा धुड्ज्‍यै तीनूं धाम
    साच आंखियां सामनै राख दिखातो रील
    कवेसरां में कायमी साध ठोकग्‍यो सील

    ReplyDelete
    Replies
    1. वाहहहहहहह पहाड़िया साहब

      Delete