Monday, 30 October 2017

राजिया रा सोरठा

साचो मित्र सचेत, कहयो काम न करै किसौ।
हर अरजन रै हेत, रथ कर हाक्यो राजिया॥

राजिया रा इण सोरठा सूं सांचा मिंत री परख बताई है कि सांचो दोस्त तो वो ही हुवे जको मिंत री भलाई रै वास्ते कोई भी कम करतो संके कोनी।साचो मित्र वो ही हुवे जको आप रा मिंत रै वास्ते किसो ही काम हुवे बेगो थको नीं करै। हे राजिया  भगवान श्री कृष्ण तो आप रै मिंत अर्जुन रा रथ रौ सारथी बणन में भी सन्को नीं करता आप खुद रै हाथां सूं रथ हांक्यो।

No comments:

Post a comment