Monday, 18 September 2017

कैबत

उबां खेजडा बेज कोनी पडे

कैबत रौ अरथ है जलदबाजी करणे सूं कीं कोनी हुवे हर काम में काम रै हिसाब सूं ही टैम लाग्यां करै।

No comments:

Post a comment